Latest Events

  • img

    From Director Desk

    Ajay Singh

    Mahadev Mahavidyalaya is a tribute to the years of service rendered by the late Ram Autar Singh ji in the field of education. He held the position of Principal in secondary education for almost thirty years, and his lifelong aspiration was to elevate higher education to new heights, a sector that has been neglected for centuries. His personality and creativity are still a source of inspiration for us today, as they were always striving for the expansion of education in society.

    Read more
  • img

    From Principal's Desk

    Dr. Dayashankar Singh

    कलि . कलुष विनासिनी, शंकर-शिखर-विलासिनी भागीरथी जहाँ काशी विश्वनाथ के पग-पंकज प्रछालित करती है। अध्यात्म, ज्ञान, सर्वधर्म समभाव की अजस्त्र धारा प्रवाहित करने वाली, तुलसी, कबीर की वाणी से गंुजित, आदि शंकराचार्य के चरणों से पवित्र भूत, हरिश्चन्द्र के सत्यघोष की सार्वभौम साक्षी महान संत रविदास व कीनाराम चरण रज्-रंजित, मोक्षदायिनी काशी के उत्तरी छोर पर स्थापित महादेव महाविद्यालय, मालवीय की परम्परा को अनवरत आगे ले जाने को प्रयत्नशील है। धर्मज्ञान परोपकार मूर्ति स्व0 रामअवतार सिंह जी द्वारा स्थापित यह महाविद्यालय, उनके सर्वजन शुभेच्छु पुत्र अजय कुमार सिंह के कुशल निर्देशन में ज्ञान ज्योतिपुञ्ज को अनवरत प्रज्ज्वलन हेतु समर्पित, कृत संकल्पित है। ष्सा विद्या या विमुक्तये ष् ज्ञान वही है जो मुक्त करे जड़ता से अंधकार से प्रकाश की ओर, दानवता से मानवता की ओर ले जाए। शिक्षा हमें संसार के कुत्सित, आत्मा को कलुषित करने वाले विचार व्यवहारों से मुक्त करती है। जीवन में श्रेयश और प्रेयश् का संतुलन अनिवार्यतः अपेक्षित है। इस दौर में अत्यधिक वैज्ञानिक तर्कवादी विचार, भोगवाद के चर्मोत्कर्ष को तलाशते, दुश्चरित्रता में आकंठ डूबे धन-पशुओं ने मानवता के आत्मानन्द को धूमिल कर दिया है। दूसरी ओर धर्म के अति आग्रहियों ने संसार को धार्मिक झगड़ों, अलगाववाद के नाम पर आतंक, दंगो की भठ्ठी में मानवता को झोंक दिया है। तब ऐसी शिक्षा और शिक्षा मंदिर हों जो जीवन के सरित प्रवाह को भौतिकता व आध्यात्मिकता के मध्य संतुलित अविरल गति दें। हमारा उद्देश्य सतत्-सजग, सृजनशील, कर्मठ, अनुशासन प्रिय युवा चरित्र का निर्माण है जो राष्ट्र की उन्नति के भागीरथ प्रयास में खुद को समर्थ सिद्ध कर सकें। विगत कई वर्षों से महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने विश्वविद्यालयीय परीक्षाओं में न सिर्फ उच्चतम अंक अर्जित किये हैं अपितु देश और प्रदेश) स्तर पर खेल प्रतियोगिताओं यथा एथेलेटिक्स, कबड्डी, बॉक्सिंग, किक बॉक्सिंग, बैडमिन्टन, वुसु एवं योग प्रशिक्षण में विजेता बने हैं। महाविद्यालय प्रत्येक दुसरे वर्ष एक विशाल छात्र समागम आयोजित करता है, जिस मंच से छात्र अपनी कला, संस्कृति, शिक्षा की महान विरासत सन्दर्भित अर्जित क्षमताओं को प्रदर्शित करते हैं। जिसकी एक सचित्र झलक इसी विवरणिका में संलग्न है। महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना व रोवर्स रेन्जर्स कार्यक्रम संचालित हैं जो युवाओं में समाज सेवा व आत्मोन्नति के मार्ग प्रशस्त करते हैं। लगभग 7 हजार विद्यार्थियों एवं 150 से अधिक कर्मचारियों, भव्य शिक्षण कक्षाओं, सुसज्जित प्रयोगशालाओं, नयनाभिराम सुसज्जित पार्क से युक्त महादेव महाविद्यालय, हमारे साथ किसी भी रूप में जुड़े हुए श्रेष्ठ सुधीजनों के प्रति अनन्त आभार प्रज्ञापित करता रहेगा। श्तमसो मा ज्योतिर्गमय असतो मा सद्गमयश् मुश्किलों का आना च्ंतज व िप्पमि उनसे बाहर आना ।तज व िस्पमिण् (डॉ. दयाशंकर सिंह) प्राचार्य

    Read more
  • img

    From Controller of Exam's Desk

    Dr. Sanjay Kumar Mishra

About MPGC

Mahadev Post Graduate Mahavidyalaya, Bariyasanpur, Varanasi,(U.P.) is located at a distance of 500 meters from the block of Chirai Village on Gajipur Rajmarg 29 in Bariyasanpur village, Varanasi,(U.P.). The name of this college is derived from the name of the ancient Shiv Peeth, which is located in the northeast of the Bariyasanpur village.

Read more

Study At MPGC

MPGC sets the benchmarks of the global education with a system that matches the best of practices, theories, resources and standards all over the world

  • 0+ Programmes
  • 0K+ Students

OFFICIALS

From the Desk of College Mahadev PG College, Bariyasanpur, Varanasi, Uttar Pradesh has put his effort into a philanthropic mission to promote education for all Indians

Important LINKS

Get In Touch

Mahadev PG College, Bariyasanpur,Varanasi
Upttar Pradesh, 221007